आज अगर किसी लड़की की सुरक्षा की बात आती है तो अक्षय कुमार को बहुत याद किया जाता है क्योकि उन्हें और आदित्य ठाकरे ने मिलकर लड़कियों के लिए सेल्फ डिफेंस की संस्था खोली है जिसमे लड़कियों को निशुल्क अपने आप की रक्षा करनी सिखाई जाती है | इनकी इस पहल से अनेक लड़कियों ने आत्मरक्षा के गुर सीखे है और वो आगे भी लड़कियों को सिखाती है |akshay-shreya-22
एक लड़की ने कहा की अक्षय कुमार ने उनकी इज्जत बचाई है – यह बात है मुबई अँधेरी इलाके की यहाँ आयेदिन लड़कियों के साथ बतमीजी होती है , पर कुछ लड़कियां सामान करती है तो कुछ चुप हो जाती है उन्ही में से थी श्रेय नाईक , लड़की को अकेला पाकर एक बतमीज लड़का उसके पास आता हो उसे छूने लगता है | श्रेय ने हाल ही में अक्षय कुमार की संस्था से ट्रेनिग ली थी तो उसने उस बतमीज लड़के को ऐसा सबक सिखाया की वो कभी भूल भी नहीं पाया होगा | अक्षय के सिखाए तरीके से श्रेया ने उस लड़के पर हमला बोल दिया पर लड़का एक ही बात बोलता रहा ‘अरे मेने तो हाथ ही लगाया था’ श्रेया इसी बिच अपनी माँ को कॉल करती है और पुलिस को बुलाती है |