सैफ अली खान इन दिनों अपने बेटे तैमुर को लेकर बहुत ज्यादा चर्चे में रहे हैं। तैमुर का समाधान हुआ तो उन्हें एक बड़ी मुसीबत ने घेर लिया है। आपको बता दूँ की अपने बेटे का नाम तैमुर रखने पर सोशल मिडिया पर बहुत बवाल हुआ था। इस बवाल ने एक घोर रूप ले लिया था। खैर अब सैफ अली खान इस बवाल से तो निकल गये है पर उनकी जिंदगी में एक बड़ा बवाल और खड़ा हो गया है। इसकी जानकारी सोशल मिडिया पर तो नहीं आई पर उनकी पर्सनल जिंदगी को जरुर खतरे में डाल रही है।

तैमुर के बाद 5000 करोड़ का नुकसान – कहते है ना की जैसी करनी वैसी भरनी , लोगों ने तैमुर नाम का विरोध किया था पर यह नहीं समझे शायद यह उनकी ना समझी का ही फल है। हाल ही में सैफ अली खान को एक या दो करोड़ का नहीं 5000 करोड़ का नुकसान हुआ है। इस नुकसान ने इनकी जिंदगी मानो हिला कर रख दी है।

तैमुर के नाम होने वाली 5000 करोड़ की संपति का हुआ अंत – आपको बता दूँ की एक पिता की संपति का अधिकारी उसका बेटा होता है पर इस बार कुछ उल्टा होने वाला है। जी हाँ तैमुर को ऊनि संपति का अधिकार नहीं मिलेगा। सरकार द्वारा एक घोषणा में तैमुर के दादा और परदादा की दौलत पर अब सरकार का स्वामित्व होगा। वैसे दादा की संपति पर पोते का हक होता है पर शत्रु संपति आयोग के अनुसार अब तैमुर को उनके दादा की जायदाद में हक़ नहीं मिलेगा।

ऐसा घाटा सहन करना शैफ के लिए मुश्किल है – बॉलीवुड के नवाब कहलाये जाने वाले शैफ अली खान के दादा परदादा की संपति पर अब सरकार का स्वामित्व होने से शैफ अली खान का पूरा 5000 करोड़ रूपये का घाटा लगा है। ऐसे में शैफ चाहेंगे की कैसे भी वो अपने इस घाटे को पूरा करे।

सरकार को लगा चुके है अर्जी – खबर मिली है की शैफ अली ने इस मसले में पुनर्विचार करने के लिए अर्जी लगा चुके हैं। नोटबंदी के चलते यह मसला अभी तक रुका हुआ है। खैर आगे क्या होगा इसके बारे में हम अभी कुछ नहीं कह सकते हैं। वैसे खबर की माने तो यह संपति शैफ के हाथों से निकल चुकी हैं।